Breaking News
Home » पर्यटन » पर्यटन- पर्यटन मंत्री ने विरासत को अपनाने की परियोजना के तहत 22 स्मारकों के लिए 9 एजेंसियों को आशय पत्र प्रदान किया

पर्यटन- पर्यटन मंत्री ने विरासत को अपनाने की परियोजना के तहत 22 स्मारकों के लिए 9 एजेंसियों को आशय पत्र प्रदान किया

          ✍ अतिश दीपंकर , चीफ एडिटर ।

 

संस्कृति मंत्रालय तथा भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण (एएसआई) एवं राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों के सहयोग से पर्यटन मंत्रालय ने आज नई दिल्ली में विरासत को अपनाने की परियोजना के तीसरे पुरस्कार समारोह का आयोजन किया। परियोजना के चौथे चरण के अंतर्गत चयनित किए गए एजेंसियों को आशय पत्र प्रदान किए गए। केंद्रीय पर्यटन राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्री के. जे. अल्फोन्स ने 22 स्मारकों के लिए 9 एजेंसियों को आशय पत्र प्रदान किया।

विरासत को अपनाने की परियोजना- अपनी धरोहर अपनी पहचान, 27 सितंबर, 2017 को लांच की गई थी। इसका लक्ष्य समृद्ध संस्कृति और प्राकृतिक विरासत को संरक्षित रखना तथा पूरे देश में पर्यटन को बढावा देना है।

परियोजना के वेबसाइट के अनुसार अब तक 195 पञ्जीकरण हुए है जो उत्साह वर्धक हैं। सरकारी, निजी, विद्यालय और यहां तक की व्यक्तिगत स्तर पर भी लोग इस योजना में शामिल होने की इच्छा रखते है। 95 स्मारकों में पर्यटक अनुकूल सुविधाओं के विकास के लिए ओवरसाइट एंड विजन समिति ने 31 संभावित स्मारक मित्रों का चयन किया है। प्रमुख विरासत स्थलों में लाल किला, कुतुबमीनार, हम्पी, सूर्य मंदिर, अजंता गुफाए, चार मीनार, कांजीरंगा नेशनल पार्क आदि शामिल हैं।

कार्यक्रम में पर्यटन मंत्रालय की सचिव श्रीमती रश्मि वर्मा, डीजी पर्यटन श्री सत्यजीत राजन, एडीजी पर्यटन श्रीमती मीनाक्षी शर्मा तथा अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

विरासत को अपनाने की परियोजना के चौथे चरण के अंतर्गत विरासत स्थलों की सूची

क्र. सं. एजेंसी का नाम स्थल क्र. सं. स्मारक का नाम/पर्यटन स्थल
1 ऑरेंज काउंटी रिसॉर्ट्स और होटल 1. कमल महलहम्पीकर्नाटक

 

 

2. हाथी अस्तबलहम्पीकर्नाटक
2 विरासत रिसॉर्ट्स- हम्पी 3. कर्नाटक के हम्पी में विरुपक्ष मंदिर से विठ्ठला मंदिर के प्राचीन मार्ग का पुनरुद्धार।
4. कृष्ण मंदिर (बरवलिंग के पीछे)हम्पीकर्नाटक।
3 काकातिया हेरिटेज ट्रस्ट 5. रामप्पा मंदिरपलामपेटतेलंगाना।
4 आईटीसी लिमिटेड 6. ताजमहलआगराउत्तर प्रदेश।
5 जीएमआर स्पोर्ट्स प्रा. लिमिटेड
6 आगा खान ट्रस्ट फॉर कल्चर (आगा खान विकास नेटवर्क की एक एजेंसी) 7. आगा खान पैलेसपुणेमहाराष्ट्र।
7 पद्मिनी हवेली 8. चित्तौड़गढ़ किलाचित्तौड़गढ़राजस्थान।
9. देवरिया महादेव और प्राचीन तंबावती नागरीचित्तौड़गढ़राजस्थान के खंडहर।
8 रेजबर्ड टेक्नोलॉजीज प्रा. लिमिटेड 10. मेहरौली पुरातत्व पार्कदिल्ली।
11. गोल गुंबदलोढ़ी रोड फ्लाईओवर
12. बारा लाओ का गुंबद और बारादारीवसंत विहार
9 क्लिंबिंग वर्ल्ड 13. गौमुख वशिष्ठ आश्रममाउंट आबूराजस्थान
14. टाइगर पथमाउंट आबूराजस्थान।
15. टोड रॉक सहित बेली वाकमाउंट आबू राजस्थान।
16. अर्बूदा देवी और शांति शिखरमाउंट आबू राजस्थान।
17. दिलवाड़ा मंदिरमाउंट आबू राजस्थान के आसपास का मार्ग।
18. गुरुशिखार से शेरगांवमाउंट आबू राजस्थान के मार्ग।
19. राजस्थान के माउंट आबूमें नक्की झील के पास रॉक क्लाइंबिंग।
20. कुम्भलगढ़ किला की दीवारकुंभलगढ़राजस्थान
21. राम टेकरी पथकुम्भलगढ़राजस्थान।
22. तीर्थंकर ट्रेलजैन मंदिररणकपुरराजस्थान का तीर्थंकर मार्ग।

 

Comments

comments

x

Check Also

नयी दिल्ली :- बहुत हवा में उड़ते थे नीतीश, मोदी ने दिखा दी हैसियत…??

नयी दिल्ली :- नीतीश कुमार एक ऐसे नेता रहे हैं जिन्होंने मोदी का जमकर विरोध किया था. नीतीश कुमार नहीं ...

Show Buttons
Hide Buttons