Breaking News
Home » Recent » बेखौफ होकर बल्लेबाजी करने के लिए मशहूर रहे हैं वीरेंद्र सहवाग

बेखौफ होकर बल्लेबाजी करने के लिए मशहूर रहे हैं वीरेंद्र सहवाग

भारत के पूर्व हरफनमौला और विस्फोटक बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग हमेशा बेखौफ होकर बल्लेबाजी करने के लिए मशहूर रहे हैं। उनका कहना था कि वह 5 रन पर खेल रहे हों, या 195 पर, या फिर चाहे 295 पर ही खेल रहे हों, अगर उन्हें लगेगा कि गेंद छक्के के लिए है तो वह छक्का ही लगाएंगे और उन्होंने कई बार ऐसा किया भी। इन्हें भारत सरकार ने सहवाग को 2002 में अर्जुन अवार्ड देकर सम्मानित किया। आज जानिए सहवाग के बारे में कुछ रोचक जानकारियां…मैदान पर रनों की बारिश करने वाले वीरेन्द्र सहवाग का जन्म 20 अक्टूबर 1978 को हरियाणा के एक जाट परिवार में हुआ था। उन्हें बचपन से ही क्रिकेट का शौक था। जब वे सात महीने के थे तब उनके पिता ने उन्‍हें एक बैट खेलने के लिए लाकर दिया था। वीरू के नाम से मशहूर वीरेंद्र सहवाग के कई और निकनेम भी हैं। पाकिस्तान के खिलाफ मुल्तान टेस्ट में तिहरा शतक लगाने के बाद लोग उन्हें मुल्तान का सुल्तान के नाम से पुकारने लगे थे। इसके अलावा उन्हें उनके फैंस नजफगढ़ के नवाब औऱ द लिटिल तेंदुलकर के नाम से भी पुकारते थे। सहवाग ने अपने क्रिकेट करियर की शुरूआत 1997 में दिल्ली क्रिकेट टीम से की थी। 1998 में वे नार्थन जॉन क्रिकेट टीम में दलीप ट्रॉफी के लिए सिलेक्ट हुए। फिर वे रणजी ट्रॉफी के लिए खेले। यहां पर वे सिलेक्टर की नज़रों में आए और अंडर 19 टीम के लिए सिलेक्ट किए गए। वीरेंद्र सहवाग अकेले भारतीय क्रिकेटर हैं जिनके नाम दो तिहरे शतक हैं। उनके अलावा कोई अन्य भारतीय बल्लेबाज तिहरे शतक के जादुई आंकड़े को छू भी नहीं पाया। सहवाग के करियर की सबसे बड़ी पारी 319 रनों की है, जो उन्होंने दक्षिण अफ्रीका के खुलाफ चेन्नई के एमएस चिदंबरम स्टेडियम में खेली थी। 2008 में सहवाग ने अपनी इस पारी में 42 चौके और 5 छक्के लगाए थे। अप्रैल 2009 में सहवाग एकमात्र ऐसे भारतीय बने जिन्हें “विजडन लीडिंग क्रिकेटर ऑफ द ईयर” के खिताब से नवाज़ा गया। उन्होंने अगले वर्ष भी इस ख़िताब को फिर जीता। सहवाग दुनिया के एकमात्र सलामी बल्लेबाज हैं, जिसने टेस्ट और वनडे दोनों में 7500 से अधिक रन बनाए। सहवाग भारत के पहले टी 20 कप्तान रहे। 2007 में उन्होंने भारत के पहले टी 20 मैच में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ मैच में कप्तानी की। टेस्ट क्रिकेट में किसी लंबी पारी में सबसे तेज़ स्ट्राइक रेट से रन बनाने का रिकॉर्ड सहवाग के नाम है। सहवाग ने 2008 में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ चेन्नई टेस्ट में 319 रनों की पारी खेली थी, जिसमें उनका स्ट्राइक रेट 104.93 रहा। साल 2004 में सहवाग ने आरती से शादी रचा ली और इन दोनों के दो बेटे भी हैं। वे अपने परिवार के साथ दिल्‍ली के नजफगढ़ इलाके में रहते हैं। सहवाग की पसंदीदा डिश घर पर बनी हुई खीर है। उन्‍हें किशोर, लता और रफी के गाने सुनना और थ्रिलर फिल्‍में देखना बहुत पसंद हैं।

Comments

comments

x

Check Also

समस्तीपुर :- मारपीट का आवेदन देकर किया कार्रवाई की मांग।

समस्तीपुर से रामकुमार की रिपोर्ट :- विभूतिपुर थाना क्षेत्र अंतर्गत बोरिया डीह वार्ड 12 निवासी भोला महतो के 18 वर्षीय ...

Show Buttons
Hide Buttons