Breaking News
Home » Recent » रांची :- रांची पहुंचे ईरानी मेहमान एयरपोर्ट पर हुआ भव्य स्वागत

रांची :- रांची पहुंचे ईरानी मेहमान एयरपोर्ट पर हुआ भव्य स्वागत

रांची :- ईरान से आए हुए मेहमानों का मिलाते इस्लामिया के द्वारा बिरसा मुंडा एयरपोर्ट पर स्वागत किया गया। उस्मानिया पब्लिक स्कूल हे छात्राओं के द्वारा इस्तकबालिया गीत गाकर स्वागत किया गया। ईरानी मेहमान 01 दिसम्बर को जलसा सीरत उन नबी व ऑल इंडिया नातिया मुशायरा अंजुमन प्लाजा में बतौर मुख्य अतिथि शामिल होंगे। दर्जनों लोगों ने गुलदस्ता भेंट कर उनका इस्तक़बाल किया। मुशायरा के कन्वीनर हजरत मौलाना सैयद तहजीब उल हसन रिजवी ने कहा कि ईरान का रिश्ता जैसे भारत के साथ मजबूत हो रहा है वैसा ही झारखंड से रिश्ता भी मजबूत हो रहा है। हम आने वाले सभी मेहमानों का स्वागत करते हैं। उम्मते इस्लामिया इसको यकजहती के नज़रिए से देख रही है। रांची के जलसे की धमक ईरान में भी महसूस की जा रही है। ईरान से आए मेहमान में ईरान यूनिवर्सिटी के प्रो वाइस चांसलर आकाई महादेवी मैहर, ईरान मस्जिद ए अहनाफ़ के इमाम व खतीब सैयद इब्राहिम फाजिल हुसैनी, ईरान के वाहिद रोशनी तेहरानी, ईरान के मौलाना सैयद याहिया फ़ाज़ली हुसैनी शामिल है। ईरान यूनिवर्सिटी के प्रो वाइस चांसलर आकाई महादेवी मेहर ने कहा कि ईरान में शिया सुन्नी एक साथ रहते हैं वहां किसी भी तरह की आपसी रंजिश नहीं है। ईरान मस्जिदे आह्नाफ के इमाम खतीब सैयद इब्राहिम फाजिल हुसैनी ने कहा के हम सब एक अल्लाह को मानने वाले और अल्लाह के रसूल हजरत मोहम्मद को मानने वाले हैं आज जरूरत है हम सबको एक साथ मिलकर रहने का हमारे यहां किसी तरह का शिया सुन्नी लड़ाई नहीं है। मुसलमानों के बीच भाई चारगी के फिजा को आम करना और उसे मजबूत करना है। ज्ञात हो कि ईरानी मेहमानों का स्वागत 1 दिसंबर को अदृश्य तंजीम हाई स्कूल में होगा। उसी दिन रात में नातिया मुशायरा का प्रोग्राम है जिसमें हजरत मुख्यातिथि हैं। 02 दिसंबर को झारखंड के मुसलमानों के तरफ से अंजुमन इस्लामिया रांची ईरानी मेहमान का स्वागत करेंगे। मुशायरा के कन्वीनर मौलाना सैयद तहजीब उल हसन रिजवी ने 1 दिसंबर को हो रहे अंजुमन प्लाजा में नातिया मुशायरा में उम्मते मुस्लिमा से ज्यादा से ज्यादा शामिल होने की अपील की है। एयरपोर्ट पर स्वागत करने वालो में मौलाना ताहजिबुल हसन ,मौलाना शरीफ अहसन मजहरी,मौलाना जिया उल हुदा, कारी सुहेब, मौलाना रिजवान, मोहम्मद उस्मान, अता इमाम रिजवी, मेहंदी इमाम, इकबाल फातमी, डॉक्टर शमीम हैदर, नेहाल हुसैन सरियावी, कासिम अली, सैयद समर अली, एस एम आसिफ, फैजान हैदर, जीशान हैदर, अली हसन फातमी, शाह कुली, प्रोफेसर शीन अख्तर समेत दर्जनो लोग थे।

Comments

comments

x

Check Also

पटना :- ज़िंदगी के हर मोड़ पर हमारा सामना होता है संघर्षो से

पटना :- संघर्ष हमारी ज़िंदगी की एक सच्चाई है। कोई इस बात को समझ लेता है तो कोई पूरी ज़िंदगी ...

Show Buttons
Hide Buttons