Breaking News
Home » Recent » पटना :- “अबकी बार नफरत की हार” कार्यक्रम आयोजित की गई 

पटना :- “अबकी बार नफरत की हार” कार्यक्रम आयोजित की गई 

डेस्क रिपोर्ट लक्ष्मी प्रसाद

पटना । नफरती हमलों के विरोध में राज्यव्यापी आंदोलन की शुरुआत के तहत आज बी .आई.ऐ भवन, पटना का सभागार में “अबकी बार नफरत की हार ” कार्यक्रम में पूर्व मुख्यमंत्री  जीतन राम मांझी, राजद के प्रांतीय प्रवक्ता व विधायक अख्तरुल इस्लाम शाहीन तथा राधिका बेमुला भी शामिल हुए ।

अपने उद्द्गार व्यक्त करते हुए पूर्व मुख्यमंत्री जितन राम मांझी ने कहा की केंद्र की मोदी सरकार – गरीब विरोधी , मजदूर विरोधी , किसान विरोधी , युवा विरोधी तथा जनविरोधी है । मोदी सरकार पूर्णतः फेल है । मोदी सरकार के साढ़े 04 वर्ष के कार्यकाल में अबतक 44 हजार से अधिक किसानो ने आत्महत्या की है ।शिक्षित बेरोजगारो को रोजगार नहीं मिल रहा है ।मोदी सरकार नफरत व घृणा की राजनीति कर रही है ।केंद्रीय जाँच एजेंसियो का दुरूपयोग कर रही है ।देश में चहुँ ओर भय, आतंक , भ्रष्टाचार अराजकता तथा नफरत व घृणा का आलम है ।इतिहास कभी मोदी सरकार को कभी माफ नहीं करेगी ।

राजद के प्रांतीय प्रवक्ता व विधायक अख्तरुल इस्लाम शाहीन ने कहा की मोदी सरकार ने अपने साढ़े चार साल के कार्यकाल में देश में नफरत का माहौल बना दिया है। जो देश विभिन्न धर्मों, जातियों के होते हुए सौहार्द के रूप में जाना जाता था, अब वहां दलितों और अल्पसंख्यकों पर हमले हो रहे और उनके प्रति नफरत फैलाई जा रही है।उन्होंने पत्रकार गौरी लंकेश की हत्या की ओर इशारा करते हुए कहा कि भारत में ध्रुवीकरण व नफरत की राजनीति सिर उठा रही है । मोदी शासनकाल में देश नफरत के गणतंत्र में तब्दील हो गया है ।यह भी कहा की सांप्रदायिक दंगे, घृणा, अपराध, फर्जी एनकाउंटर, दलितों पर अत्याचार, महिलाओं पर हमले भाजपा सरकार की चारित्रिक विशिष्टताएं बन चुके हैं ।

सांप्रदायिक ध्रुवीकरण कराने के लिए आज देश में एक बार फिर से नफरत का माहौल खड़ा किया जा रहा है । दलित शोध छात्र रोहित का मामला संभावना व देश के भविष्य की हत्या है ।
हैदराबाद यूनिवर्सिटी में बीजेपी के लीडर और वीसी के उत्पीड़न की वजह से एक शोध विद्यार्थी का इस तरह आत्महत्या करना एक दुखद घटना है । इससे केंद्र सरकार का युवा विरोधी, लोकतंत्र विरोधी चरित्र ही फिर एक बार सामने आया है । ‘शिक्षा व्यवस्था में फैले जातिवाद के खिलाफ पूरी जिदंगी रोहित ने लंबी लड़ाई लड़ी और बलिदान दिया.’ मोदी सरकार हर मोर्चे पर विफल हो गई है, और अब हार से बचने के लिए एक बार फिर देश को सांप्रदायिकता की आग में झोंकने की साज़िश की जा रही है। उन्होंने कहा कि बीजेपी संकीर्णता को बढ़ावा देकर समाज को बांटने की राजनीति कर रही है। उन्होंने कहा कि जनविरोधी और सांप्रदायिकता को बढ़ावा देने वाली नीतियों को रोकने के लिए नौजवानों को बड़ी भूमिका निभानी होगी ।

 

Comments

comments

x

Check Also

समस्तीपुर :- कोर्ट कैम्पस में रोज घंटो पानी की होती है बर्बादी

समस्तीपुर से लक्ष्मी प्रसाद /अमरदीप नारायण प्रसाद :- बिहार में हर तरफ पानी के लिए हाहाकार मचा हुआ है और ...

Show Buttons
Hide Buttons