Breaking News
Home » Recent » बासुकीनाथ :- अवैध निर्माण को लेकर जदयू प्रखंड अध्यक्ष का धरना.

बासुकीनाथ :- अवैध निर्माण को लेकर जदयू प्रखंड अध्यक्ष का धरना.

धनंजय कुमार सिंह जरमुंडी निज संवाददाता :- बासुकीनाथ नगर पंचायत स्थित विश्व प्रसिद्ध तीर्थ स्थल बाबा बासुकीनाथ धाम में सरकारी जमीन के अवैध कब्जे को लेकर राजनीतिक दलों ने हल्ला बोलना शुरू कर दिया है जदयू प्रखंड अध्यक्ष सह बासुकिनाथ के सोलह आना रैयत रविंद्र पंडा ने प्रेस को दिए गए बयान में आरोप लगाते हुए कहा है कि अंचलाधिकारी और जरमुंडी पुलिस प्रशासन की मिलीभगत से परती कदीम जमीन दाग नंबर 526 पर विद्या भवन धर्मशाला द्वारा 3 कट्ठा 3 धुर सरकारी जमीन मे रातों रात तीन मंजिला इमारत का निर्माण करा दिया गया पूर्व में अवैध निर्माण एवं अतिक्रमण को लेकर पंडा द्वारा उपायुक्त अनुमंडल पदाधिकारी ,जिला 20 सूत्री समिति ,प्रखंड बीस सूत्री समिति एवं अंचलाधिकारी को लिखित शिकायत की गई थी जिसके बाद प्रशासन द्वारा अवैध निर्माण स्थल पर काम बंद करवा दिया गया और यथास्थिति बनाए रखने की जिम्मेदारी स्थानीय पुलिस को दी जदयू प्रखंड कमेटी जिला प्रशासन से अवैध निर्माण कार्यों में सहयोग देने वाले पदाधिकारियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग पर अडिग है जदयू प्रखंड अध्यक्ष मीडिया को दिए गए बयान में जिला प्रशासन से अवैध निर्माण तुड़वाने की मांग की है वहीं जिला जदयू द्वारा स्पष्ट किया गया है कि अगर महीने दिनों के भीतर बासुकीनाथ में अवैध निर्माण को ध्वस्त नहीं किया गया तो पार्टी के बैनर तले उपायुक्त दुमका कार्यालय के समक्ष आमरण अनशन करेंगे आश्चर्य तो तब होता है 2017 में जब चोरी-छिपे निर्माण कराया जा रहा था तो कई बार इस धर्मशाला की खबर कई दैनिक अखबारों के साथ-साथ व्हाट्सएप ग्रुप में भी चलाया गया था लेकिन काम रोकने के बजाय धर्मशाला के संस्थापक के द्वारा विरोध करने वालों कि अनदेखी करके रोकने वाले पदाधिकारियों कि जेब गर्म करवाकर काम निरंतर बढ़ता चला गया ऐसा भी नहीं है कि धर्मशाला दूरदराज देहात में है बल्कि सड़क किनारे उस मार्ग पर है जहां आए दिन इस मार्ग पर प्रखंड के उन सभी पदाधिकारियों की गाड़ियां गुजरती रहती हैं इसके अलावा प्रखंड मुख्यालय के जितने भी कार्यालय हैं सभी इस भवन के आसपास 1 किलोमीटर के दायरे में ही हैं फिर भी अवैध निर्माण निरंतर जारी रहा और आज यह भवन लगभग पूरी होती दिख रही है भवन निर्माण कराने के समय पूरे भवन को बड़ी-बड़ी त्रिपाल से चारों तरफ से ढक दिया गया था और उसके अंदर काम निरंतर जारी रखे हुए थे ढलाई के समय जब बाराती पार्टी इस मकान में रहते थे तो उस रात डीजे बाजा के आड़ में बड़ी-बड़ी मिक्सचर मशीन मंगा कर रात में काम करवाया जाता था

Comments

comments

x

Check Also

पटना :- ज़िंदगी के हर मोड़ पर हमारा सामना होता है संघर्षो से

पटना :- संघर्ष हमारी ज़िंदगी की एक सच्चाई है। कोई इस बात को समझ लेता है तो कोई पूरी ज़िंदगी ...

Show Buttons
Hide Buttons