Breaking News
Home » Recent » समस्तीपुर :- यात्रियों को सुरक्षा प्रदान करने के लिए संघर्षरत

समस्तीपुर :- यात्रियों को सुरक्षा प्रदान करने के लिए संघर्षरत

समस्तीपुर से लक्ष्मी प्रसाद/शंकरानंद झा।

हसनपुर । समस्तीपुर-खगड़िया रेलखंड के हसनपुर रेलवे स्टेशन स्थित आरपीएफ आउट पोस्ट में पिछले एक साल से कार्यरत मात्र 3 पुलिस कर्मियों के हाथों में 84 किमी. रेंज में 10 रेलवे स्टेशनों, 5 हाॅल्टों, रेल संसाधनों सहित यात्रियों की सुरक्षा व्यवस्था है। बताया जाता है कि हसनपुर आरपीएफ आउट पोस्ट के जिम्मे भगवानपुर देशुआ रेलवे स्टेशन से लेकर खगड़िया जंक्शन आउटर सिग्नल तक की सुरक्षा व्यवस्था है। इस रेंज में 10 रेलवे स्टेशनों व 5 रेलवे हाॅल्टों में क्रमशः भगवानपुर देशुआ, अंगारघाट, सिंघिया घाट, रुसेड़ा घाट, मब्बी, नयानगर, बरैपुरा, हसनपुर रोड, शासन, गढ़पुरा, सोनमा प्राणपुर, सलौना, इमली, पहरजा गंगौर व ओलापुर है। इन रेलवे स्टेशन परिसर, यहां के यात्रियों व इन स्टेशनों तक ट्रेनों व रेल संसाधनों की सुरक्षा व्यवस्था के लिए आउट पोस्ट में 5 पुलिस कर्मी की पोस्टिंग निर्धारित है। लेकिन वर्तमान समय में मात्र 3 पुलिस कर्मियों में एसआई तारकेश्वर प्रसाद, सिपाही सोनेलाल टुड्डू व रजनीश कुमार कार्यरत हैं। शेष 2 पुलिसकर्मियों में एक हवलदार महेशचंद्र मिश्र बिना कारण बताए छुट्टी पर हैं। वहीं दूसरे सिपाही आदित्य कुमार का पिछले एक साल से मोकामा ट्रेनिंग सेंटर में ड्यूटी है। साथ ही इस आउट पोस्ट में कार्यरत सिपाही सोनेलाल टुड्डू का स्थाई ड्यूटी अंगारघाट स्टेशन पर लगी एक स्पेशन बाॅगी की सुरक्षा के लिए निर्धारित है। इस तरह मात्र एक एसआई व एक सिपाही 84 किमी. रेंज में गश्ती कर रेलवे स्टेशन से लेकर यात्रियों को सुरक्षा प्रदान करने के लिए संघर्षरत हैं। स्थानीय आउट पोस्ट के प्रभारी की ओर से कई बार रेल मंडल सुरक्षा आयुक्त को इस समस्या से अवगत कराया जा चुका है। लेकिन आश्वासन के अलावे और कुछ नहीं मिला।

सुरक्षा के अभाव में 28 जनवरी को गढ़पुरा रेलवे स्टेशन में हो चुकी है चोरी की घटना:-
बताया जाता है कि आरपीएफ बलों के अभाव के कारण रेलवे स्टेशनों व रेल सामग्रियों की सुरक्षा नहीं हो पा रही है। इसका ताजा उदाहरण 28 जनवरी को हसनपुर व सलौना स्टेशन के बीच गढ़पुरा रेलवे स्टेशन के एक कक्ष से अज्ञात चोरों ने बैटरी की चोरी कर ली। चोरी की सूचना पर पहुंचे आरपीएफ पुलिस कर्मियों के अथक प्रयास के बाद भी न ही चोरी की गई बैटरी की बरामदगी ही हो सकी। और न ही चोरों का पता लगाया जा सका है।

30 किमी. रेंज में कार्यरत हैं 41 पुलिस बल व 84 किमी. रेंज में मात्र 3 पुलिस बल:-
बताया जाता है कि समस्तीपुर आरपीएफ पोस्ट में कुल 54 पोस्टिंग निर्धारित है। इनमें 44 पदाधिकारी सहित पुलिस कर्मी कार्यरत हैं। इनमें समस्तीपुर आरपीएफ पोस्ट का रेंज मात्र 30 किमी. है। इस रेंज में कुल 6 जंक्शन, रेलवे स्टशन व हाॅल्ट हैं। मात्र 30 किमी. रेंज की सुरक्षा के लिए 39 पुलिस कर्मी कार्यरत हैं। वहीं हसनपुर आरपीएफ आउट पोस्ट जिसका रेंज 84 किमी. है। यहां वर्तमान में मात्र 3 पुलिस कर्मी कार्यरत है। इससे रेल प्रशासन की अव्यवस्था साफ तौर पर सामने आ रही है।

कहते हैं आरपीएफ कमांडेंट:-
आउट पोस्ट में पुलिसकर्मियों की कमी संबंधित समस्या से वे अवगत हैं। मार्च के बाद पुलिस कर्मियों के तबादला की प्रक्रिया होनी है। इस क्रम में समस्या का समाधान संभव हो पाएगा।
अंशुमान त्रिपाठी, आरपीएफ कमांडेंट, समस्तीपुर

Comments

comments

x

Check Also

बिक्रम एवं बिहटा की जनता में रामकृपाल की जीत पर काफी उत्साह दिखा,जश्न का माहौल।

संवाददाता निशाँत कुमार। बिक्रम। 2019 के महाभारत में भाजपा एवं सहयोगी दलों की जीत पर बिक्रम शहीद चौक पर कार्यकर्त्ताओं ...

Show Buttons
Hide Buttons